एक सप्ताह में व्यायाम के बिना स्वाभाविक रूप से वजन कम कैसे करें

एक सप्ताह में व्यायाम के बिना स्वाभाविक रूप से वजन कम कैसे करें
एक सप्ताह में व्यायाम के बिना स्वाभाविक रूप से वजन कम कैसे करें
देररातखानेकासंबंधवजनमेंबढ़ोतरीसेभीजोड़ागयाहै. आहारमेंकंट्रोलकरनेसेपाचनतंत्रठीकहोनेमेंमददमिलतीहै. हमआपसेरिक्वेस्टकरेंगेकीआपइसपोस्टकोपूराजरुरपढ़ेताकिआपकोहमारेबतायेगएउपायऔरटिप्ससेफायदाहोपाए. हमआपकोदोप्रकारकेड्रिंक्सकेबारेमेंबतानेजारहेहैं,जिनकाखालीपेटउपयोगकरकेआपअपनीपेटकीचर्बीकोघटासकतेहैं. आपअपनेहरडाइटमेंएकयादोरोटीजरूरखाएंऔरचावलकीमात्राकोकमसेकमरखनेकीकोशिशकरें. इसलिएअदरकभारतीयरसोईघरोंमेंमौजूदसबसेबहुमुखीसामग्रियोंमेंसेएकहै. आपअपनीदिनचर्याकेहिसाबसेसोचेंगेतोकईरास्तेनिकलआएंगे. रुखेऔरबेजानबालोंसेछुटकारापानेकेलिएआंवलाबेहतरीनउपायहै।आंवलाबालोंकेलिएप्राकृतिकटॉनिकहै,जोबालोंकाविकासकरनेकेसाथ-साथउन्हेंझड़नेसेभीरोकताहै 3. Normallyखानाखानेकेबादबहुतआलस्यआतेहै,औरइनआलस्यकीवजहसेwalkingकरनेकामननहींहोतालेकिनअगरआपकोजल्दीवजनघटानाकमकरनाहैंतोWalkingकरनाहीपड़ेगी. आइएजानेंक्याहैंवोजरूरीटिप्स अगरआपपतलाहोनाचाहतेहैंतोआपकोअपनीडाइटसेमीठाखत्मकरनाहोगा.

एक सप्ताह में व्यायाम के बिना स्वाभाविक रूप से वजन कम कैसे करें पाटलिपुत्र का इतिहास कितना वर्ष पुराना है

आपकोरातमेंइलायचीकोछीलकोकरउसकेदानेकोपानीमेंभिगोकररखदेनाचाहिए।रातभरइलायचीकेदानोंकोपानीमेंभिगोकररखारहनेदें।इसकेबादआपसुबहउसीपानीकोगर्मकरलें।इसपानीकोआपपीलें सेबकेसिरकेकीसिर्फ'1चम्मच'हैकमाल,महिलाओंकी10समस्याएंकरतीहैदूर वजनज्यादाहोनेकेकईकारणहोसकतेहैं।मगर,इसेकंट्रोलकियाजासकताहै।आपनेकईडायटीशियनऔरडॉक्टर्ससेसुनाहोगाकिपानीपीनेसेवजनकमहोताहै।यहबात100प्रतिशतसहीहै।अगरआपपानीसहीमात्रामेंपीतीहैंतोआपकीबॉडीकामेटाबॉलिज्मरेटबैलेंस्डरहताहै अगरआपरोजानाइलायचीकापानीपीतीहैंतोआपकोकुछभीखानेकीक्रेविंगखत्महोजाएगी।इससेआपकमसेकमखानाखएंगी।अगरआपयहइलायचीकापानीपीरहीहैंतोआपकोसुबहउठतेहीऔरदिनमें2बारजरूरपीनाचाहिए।यहपानीआपकीभूखकोकंट्रोकरलेगा।वैसवजनकमकरनेकेसाथ-साथइसपानीकोपीनेसेआपकीत्वचापरभीग्लोआजाएगा मगर,केवलपानीपीकरवजनकमनहीकियाजासकताहै।अगरआपवाकईअपनावजनकमकरनाचाहतीहैंतोआजहमआपकोएकऐसेखासपानीकेबारेमेंबताएंगेजोमात्र14दिनोंमेंहीआपकोवजनकमकरदेगा आपको5-6इलायचीकेदानेरातमेंहीपानीमेंभिगोकररखदेनेचाहिए।एसाआपकोरोजकरनाचाहिए।मगरआपयदिऐसा14दिनतकलगातारकरतीहैंतोआपकोअपनेअंदरबदलावनजरआनेलगेगा महिलाओंकेलिएअमृतहैचियासीड्सकापानी,सुबहपीनेसेमिलेंगेये5फायदे हमबातकररहेहैंगुणोंसेभरपूरइलायचीकेपानीकी।जीहां,आपनेइलाइचीकीचायकेबारेमेंसुनाहोगामगरआजहमआपकोइलायचीकेपानीकेफायदेबताएंगे।इसकासबसेबड़ाफायदातोयहीहैकियहआपकेवजनकोतेजीसेघटाताहै।तोचलिएहमआपकोबतातेहैंकिआपघरपरहीबिनापैसेखर्चकिएकैसेइसखासतरहकेपानीकोबनासकतीहैं हैतोआपकोइलायचीकासेवनजरूरकरनाचाहिए।इससेआपकोबहुतलाभमिलेगा।इसकेसाथहीयहआपकेबॉडीमेंमौजूदवसाकोभीबर्नकरताहै।इससेआपकावजनकमहोताहै।इतनाहीनहींइलायचीकेसेवनसेआपकाकोलेस्ट्रॉललेवलभीकमहोजाताहैऔरआपकोखानाडायजेस्टकरनेमेंमददमिलतीहै।अगरआपइलायचीजबातीहैंतोआपकेशरीरकीचर्बीकमहोनेलगतीहै मोटापाकमकरनेकेलिएइलायचीभीकाफीकारगरसाबितहोतीहै. इलेक्ट्रानिकगेजट्सपरनिर्भरतासेअन्यअनेकघाटेभीउठानेपड़तेहैं,जैसेचार्जिंग,अँधेरेमेंदेखनेमेंसमस्या,बैटरीजल्दीख़राबहोना,हरप्रकारकेनेटवर्ककीसदाबनीरहनेवालीउठापटकइत्यादि सेशिक्षार्थियोंकाबचावहोजाताहै भीतथाउसेप्रेरितकरनेकेलियेकोईप्रत्यक्षप्रेरकभीनहींबचता. अपनेबढ़ेहुएवजनकोकमकरनेकेलिएदिनकीशुरुआतशहदऔरनींबूकेरसकेसाथकरें. दस्तकीसमस्याहोनेपरसूखाआंवलातथाकालानमकसमानमात्रामेंलेकरचूर्णबनालें. लोगोंकोहमेशाइसबातकीदुविधारहतीहैकिआखिरकिसीव्यक्तिकोदिनभरमेंकितनापानीपीनाचाहिए. सीधेखड़ेहोजाए,अपनेदोनोंहाथसरपर,याकमरपररखकरjumpकरे. अबइसमेंशहदयानींबूकारसमिलाकरइसेपीनावजनघटानेमेंमददकरताहै.

घर पर हिंदी में वजन घटाने का अभ्यास

यदिआपकेमाता-पितामेंसेकिसीएककाभीवज़नबहुतज्यादाहैतोआपकावज़नभीज्यादाहोनेकीसम्भावनाबढ़जातीहै. इसखानेमेंविटामिनए-147,विटामिनसी-89,कैल्शियम-15,मैगनीशियम-24. लेकिनकेंद्रकीमोदीसरकारअबकारोबारशुरूकरनेकेलिएबेहतरमौकादेरहीहै. इसलिए,अगरआपकोलगेकीटोडाइटसेफायदेकेबजाएनुकसानपहुंचरहाहै,तोछोड़दें. दालचीनीमेटाबॉलिज्मकोबेहतरबनानेमेंमददकरतीहैजिससेपेटकमकरनेमेंमददमिलतीहै।रोजानासुबहखालीपेटदालचीनीकीचायपीनेसेचर्बीकमहोतीहै 3. सभीद्रव्यसदैवअपनेप्राकृतिकरूपोंमेंशरीरमेंउपयोगीनहींहोते।रोगऔररोगीकीआवश्यकताकेविचारसेशरीरकीधातुओंकेलिएउपयोगीएवंसात्म्यकरणकेअनुकूलबनानेकेलिए;इनद्रव्योंकेस्वाभाविकस्वरूपऔरगुणोंमेंपरिवर्तनकेलिए,विभिन्नभौतिकएवंरासायनिकसंस्कारोंद्वाराजोउपायकिएजातेहैंउन्हेंकल्पना(pharmacy,pharmaceuticalprocesses)कहतेहैं।जैसे-स्वरस(जूस),कल्कयाचूर्ण(पेस्टयापाउडर),शीतक्वाथ(infusion),क्वाथ(decoction),आसवतथाअरिष्ट(tinctures),तैल,घृत,अवलेहआदितथाखनिजद्रव्योंकेशोधन,जारण,मारण,अमृतीकरण,सत्वपातनआदि जिससेसभीदोषसममात्रामेंहों,अग्निसमहो,धातु,मलऔरउनकीक्रियाएंभीसम-उचितरूपमेंहोंतथाजिसकीआत्मा,इन्द्रियाँऔरमनप्रसन्न(शुद्ध)होंउसेस्वस्थसमझनाचाहिए।इसकेविपरीतलक्षणहोंतोअस्वस्थसमझनाचाहिए।रोगकोविकृतियाविकारभीकहतेहैं।अत:शरीर,इन्द्रियऔरमनकेप्राकृतिक-स्वाभाविकरूपयाक्रियामेंविकृतिहोनारोगहै इसकासेवनशरीरकीप्रतिरोधीक्षमताकोबढ़ाताहैऔररक्तशुद्धकरताहै।इसकाइस्तेमालमलेरिया,हैजाजैसेरोगोंकेउपचारकेलिएदवाओंमेंकियाजाताहै।डायबिटीजमेंलौंगकेसेवनसेग्लूकोजकास्तरकमहोताहै।लौंगकातेलदर्दनिवारणकेसाथ-साथमच्छरोंकोदूरभगानेमेंसहायकहै महात्मानस्तुमांपार्थदैवींप्रकृतिमाश्रिताः सर्दीकेमौसमकेदुष्प्रभावसेबचनेकेलिएजायफलकाएकटुकड़ामुँहमेंरखकरचूसतेरहिये।यहशरीरकीस्वाभाविकगरमीकीरक्षाकरताहै सरलआयुवैदिकउपायोंकेदोहे:: प्रोस्टेटएकछोटीसीग्रंथिहोतीहै,जिसकाआकारअ्खरोटकेबराबरहोताहै।यहपुरुषकेमूत्राषयकेनीचेऔरमूत्रनलीकेआस-पासहोतीहै।50वर्षकीआयुकेबादबहुधाप्रोस्टेटग्रन्थिकाआकारबढनेलगताहै।इसमेंपुरुषकेसेक्सहार्मोनप्रमुखभूमिकाहोतीहै।जैसेहीप्रोस्टेटबढतीहैमूत्रनलीपरदवाबबढताहैऔरपेशाबमेंरुकावटकीस्थितिबननेलगतीहै।पेशाबपतलीधारमें,थोडी-थौडीमात्रामेंलेकिनबार-बारआताहैकभी-कभीपेशाबटपकताहुआबूँद-बूँदजलनकेसाथभीआताहै।कभी-कभीपेशाबदोफ़ाडहोजाताहै।रोगीमूत्ररोकनहींपाताहै।रातकोबार-बारपेशाबकेलियेउठनापडताजिससेनींदमेंव्यवधानपडताहै।यहरोग70कीआयुकेबादउग्रहोजाताहैऔरपेशाबपूरीतरहरुकजानेकेबादचिकित्सककेथेटरकीनलीलगाकरयूरिनबेगमेंमूत्रकरनेकाइन्तजामकरदेतेहैं।यहदेखनेमेंआताहैकि60केपार50पुरुषोंमेइसरोगकेलक्षणप्रकटहोनेलगतेहैं,जबकि70-80कीआयुकेलोगोंमें90पुरुषोंमेंयहरोगप्रबलरूपसेदिखाईदेनेलगताहै 11). तोइनरोगोंसेबचनेकेलिएमोटापाकमकरनाबहुतजरूरीहै.

पेट अंदर करने का तरीका एक्सरसाइज